GHARELU NUSKHE

Best site for health related problems Gharelu nuskhe and desi nuskhe. Gharelu desi ilaj home remedies घरेलू नुस्खे

About

Thursday, March 2, 2017

कच्‍चे पपीते के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ(Crude papaya health benefits)

No comments
कच्‍चे पपीते के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ(Crude papaya health benefits)

Papaya

आप पके हुए पपीते का इस्तेमाल अधिक करते हो। यह आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। रोज पपीता खाने से इंसान को रोग नहीं लगते हैं। क्या आप कच्चे पपीता खाने के फायदों के बारे में जानते हैं। और यह कितना फायदेमंद होता है हमारे शरीर के लिए। कच्चे पपीता का प्रयोग हम सब्जी बनाने के लिए भी करते हैं। यदि आप कच्चे पपीते की सब्जी नियमित करते रहेगें तो आपको पेट की किसी भी तरह की बीमारी नहीं लगेगी।फल की दुकान में अक्‍सर कच्‍चा पपीता देख कर कुछ लोग उसे नहीं खरीदते , लेकिन यही कच्‍चा पपीता हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिये कितना लाभकारी होता है, यह आप नहीं जानते। कच्‍चे पपीते की सब्‍जी तो आपने खाई ही होगी लेकिन अगर आप इसे हमेशा खाने की आदत डाल लें तो पेट से संबन्‍धित सारी समस्‍याएं दूर हो सकती हैं। कच्‍चे पपीते में विटामिन, एंजाइम और न्‍यूट्रियंट्स होते हैं, जो कि पेट के रोग को दूर करने के लिये बडे़ ही फादेमंद होते हैं। आइये जानते हैं कि कच्‍चा पपीता खाने से शरीर को और कौन कौन से लाभ होते हैं। 
कब्ज की बीमारी से बचाए:-
फाइबर की भरपूर मात्रा होती है कच्चे पपीते में। जो कब्ज से आपको बचाती है। कच्चे पपीते में मौजूद एंजाइम पेट में गैस को बनने से रोग देते हैं और शरीर से विषैले तत्वों को बाहार निकाल देते हैं साथ ही साथ हमारे पाचन को भी सुधरता है।
पाचन में सुधार करे:-इसमें ऐसे एंजाइम पाए जाते हैं जो पेट में गैस बनने से रोकते हैं और पाचन में सुधार करते हैं।
इम्‍यून सिस्‍टम की मजबूती:- पपीता और उसके बीज में बहुत सारा विटामिन ए, सी और ई हेाता है, जो कि शरीर के इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत बना सकता है। कच्‍चा पपीता सर्दी और जुखा के साथ इंफेक्‍शन से भी लड़ता है।
बढ़ाए मां का दूध : स्तन पान करने वाली मांताओं को कभी कभी दूध की कमी हो जाती है। जिसकी वजह से बच्चे को पूरा पोषण नहीं मिल पाता है।
ऐसे में स्तनपान करवाने वाली माताएं जरूर कच्चे पपीते का सेवन करें। इससे दूध बढ़ने में आसानी से मदद मिलती है। साथ ही आपके शरीर की कमजोरी भी दूर होती है।
मूत्र संक्रमण दूर करे:- महिलाओ में अक्‍सर मूत्र संक्रमण हो जाता है, जिसको दूर करने के लिये कच्‍चा पपीता खाना चाहिये। यह बैक्‍टीरिया बढने से रोकता है।
वजन घाटाने में सहायक:-
अधिक वजन हो गया हो और वह कम ना हो रहा हो तो आप कच्चा पपीता खाएं। कच्चा पपीता आपका वजन तेजी से घटाता हैै। इसमें सक्रिय एंजाइम होते हैं जो वजन को तेजी से कम करते हैं।
रोके बैक्टीरिया को बढ़ने से:-
अक्सर महिलाओं को मूत्र में संक्रमण की समस्या हो जाती है। यदि एैसी समस्य हो गई हो तो आप जरूर कच्चे पपीते का सेवन करें।
आंखों की रोशनी बढ़ाने में :-
पपीते में विटामिन सी तो भरपूर होता ही है साथ ही विटामिन ए भी पर्याप्त मात्रा में होता है. विटामिन ए आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ ही बढ़ती उम्र से जुड़ी कई समस्याओं के समाधान में भी कारगर है
पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में :-
जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान दर्द की शिकायत होती है उन्हें पपीते का सेवन करना चाहिए. पपीते के सेवन से एक ओर जहां पीरियड साइकिल नियमित रहता है वहीं दर्द में भी आराम मिलता है

बढ़ती उम्र को रोकने में सहायक :-

पपीते में विटामिन सी, विटामिन ई और बीटा-कैरोटीन जैसे एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। यह सभी विटामिन त्वचा से झुर्रियों को दूर रखते हैं और असमय होने वाली त्वचा की समस्याओं को भी सही करते हैं। इस फल को रोजाना खाने की आदत आपको लंबे समय तक जवां रखने में मदद करती है।

जलने और कटने को भी ठीक करता है :-

पपीते में एंटी इंनफलेमेट्री गुण पाए जाते हैं। इस गुण के कारण यह सूजन की समस्या को ठीक करता है। साथ ही रगड़, छाले और जले हुए भाग पर कच्चे पपीते का रस लगाने से यह समस्या तेजी से सही हो जाती है।

आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है :-

आपका प्रतिरोधक तंत्र आपको बीमार कर देने वाले कई संक्रमणों के विरुद्ध ढाल का काम करता है। केवल एक पपीते में इतना विटामिन सी होता है जो आपके प्रतिदिन की विटामिन सी की आवश्यकता का 200 प्रतिशत होता है। ज़ाहिर तौर पर ये आपके प्रतिरोधक तंत्र को मज़बूत करता है। 

मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा है:-

पपीता मधुमेह रोगियों के लिए आहार के रूप में एक बेहतरीन विकल्प है क्योंकि स्वाद में मीठा होने के बावजूद इसमें शुगर नाम मात्र का होता है। साथ ही, वे लोग जो मधुमेह के मरीज़ नहीं हैं, इसे खाकर मधुमेह होने के खतरों को दूर कर सकते हैं।

गठिया रोगों से बचाता है :-

गठिया वास्तव में एक ऐसी बीमारी है जो शरीर को बेहद दुर्बल तो करती ही है जीवनशैली को बुरी तरह प्रभावित भी करती है। पपीते खाना आपकी हड्डियों के लिए बेहद लाभकारी हो सकता है, इनमें विटामिन-सी के साथ-साथ सूजन-रोधी गुण होते हैं जो गठिया के कई रूपों से शरीर को दूर रखता है। एक अध्ययन के अनुसार विटामिन-सी युक्त भोजन न लेने वाले लोगों में गठिया का खतरा विटामिन-सी का सेवन करने वालों के मुकाबले तीन गुना होता है।

कोलेस्ट्रॉल कम करन में सहायक :-
पपीते में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है. साथ ही ये विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स से भी भरपूर होता है. अपने इन्हीं गुणों के चलते ये कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में काफी असरदार है|
हो किसी प्रकार के विटामिन की कमी :-
शरीर में विटामिन्स की कमी की वजह से कई तरह से कमजोरी आ सकती है। यदि आपके शरीर में किसी भी तरह के विटामिन की कमी हो गई हो तो आप कच्चा पपीता जरूर खाएं।
माहवारी के दर्द से छुटकारा दिलाता है :-
माहवारी के दर्द से गुज़र रही महिलाओं को अपने आहार में पपीता ज़रूर जोड़ना चाहिए क्योंकि पापिन नाम एंजाइम माहवारी के दौरान रक्त के प्रवाह को दर्द से दूर रखता है। 

बैक्‍टीरिया की ग्रोथ रोके :-

पपीते की पत्‍तियों में 50 एक्‍टिव सामग्रियां होती हैं जो कि सूक्ष्मजीवों जैसे फंगस, कीड़े, परजीवी और कैंसर कोशिकाओं के विभिन्न अन्य रूपों को बढने से रोकती हैं।











कच्‍चे पपीते के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ(Crude papaya health benefits)

कच्‍चे पपीते के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ (Crude papaya health benefits) Papaya आप पके हुए पपीते का इस्तेमाल अधिक करते हो। यह आपकी सेहत के ...